भारत में  5G नीलामी की प्रक्रिया पूरी होगयी है। 

बहुत जल्द यह सर्विस एयरटेल, वोडाफोन आईडिया और जिओ द्वारा लांच की जाएगी 

5G एक वायरलेस टेक्नोलॉजी है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक स्पेक्ट्रम यानी रेडियो वेव का प्रयोग होता है। 

आपको बता दें की 5G में रेडियो फ्रेक्वेंसी के ज्यादा होने पर यह कम एरिया कवर करता है। 

इसलिए मोबाइल कंपनियों को ज्यादा से ज्यादा टावर लगाने पड़ेंगे। 

4G तकनीक में ज्यादा उपयोगकर्ताओं के होने से स्पीड कम मिलती थी। 

5G तकनीक यह समस्या दूर कर देगी। 

इसका मुख्य कारण यह है की 5G बैंडविथ को उपयोगकर्ताओं के हिसाब से बाँट देता है। 

5G की मदद से आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस और भी स्मार्ट होजायेगी 

भविष्य में 5G नई तकनीकों को जन्म देगी