rohit sharma, rishabh pant

रिषभ पंत की वजह से इस अनुभवी खिलाड़ी को नज़रअंदाज़ कर रहे हैं रोहित शर्मा, विश्वकप में पड़ सकता है भारी

एशिया कप में भारतीय टीम (Indian Cricket Team) का प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक़ काफी खराब रहा है। टीम ने सुपर चार के मैचों में पकिस्तान और श्रीलंका टीम से हार चखी थी जिसकी वजह से टीम को टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा था। प्रशंषकों ने कई सवाल खड़े किये थे। उनका मानना था की टीम को सही तरीके से न चला पाने के कारण ऐसा हुआ है। रोहित शर्मा पर भेदभाव के इलज़ाम लगे थे।

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) पर इलज़ाम लगा था की ये रिषभ पंत (Rishabh Pant) को फेवर करते हैं और खराब फॉर्म होने के कारण भी उन्हें बार-बार मौका देते रहते हैं यह भारतीय टीम के लिए खतरा बन सकता है। वहीँ कुछ लोगों का यह भी मानना था की आईपीएल के शेर हमेशा बड़े मैदान में ढेर होजाते हैं। अतः आईपीएल पर रोक लगाना चाहिए। खिलाड़ी पैसों के लिए आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करते हैं और जब देश की बारी आती है तो विश्वकप-एशिया कप जैसे टूर्नामेंट में ढेर हो जाते हैं।

चलिए अब जानते हैं की किस अनुभवी खिलाड़ी को नज़रअंदाज़ करके रिषभ पंत को बार-बार मौका दिया जा रहा है।

रिषभ पंत का चल रहा है खराब फॉर्म, फिर भी दिनेश कार्तिक हुए नज़रअंदाज़

Rishabh Pant and Dinesh Kartik
ऋषभ पंत और दिनेश कार्तिक

रिषभ पंत वनडे और टेस्ट क्रिकेट में अच्छा कर रहे हैं, वहीँ T20 की बात करें तो काफी समय से उनका फॉर्म खराब चल रहा है। रिषभ पंत को एशिया कप में भी फ्लॉप साबित हुए हैं। लोगों ने आपत्ति जताई थी की जब रिषभ पंत खेल नहीं पा रहे हैं तो फिर उन्हें इतने मौके क्यों दिए जा रहे हैं। लोगों ने यह भी सवाल उठाये थे की आखिर दिनेश कार्तिक को क्यों नहीं निरंतर मौके मिल रहे हैं?

दिनेश कार्तिक (Dinesh Kathik) को एशिया कप में खेलने का और अपने आप को साबित करने का मौका नहीं मिला है। उन्हें पकिस्तान के खिलाफ एक मैच खेलने का मौका मिला था लेकिन उनकी बैटिंग नहीं आयी थी, इस मैच में रिषभ पंत को बैठा दिया गया था। इसके बाद हांगकांग के खिलाफ हुए मैच में भी दिनेश कार्तिक की बल्लेबाज़ी नहीं आयी थी।

सुपर चार के मुकाबलों में दिनेश को बैठा दिया गया, लोगों ने अप्पत्ति जताई की जब किसी खिलाड़ी की बैटिंग ही नहीं आयी है और वह अपने आप को साबित भी नहीं कर पाया है तो कैसे उन्हें बिना एक गेंद खेले बैठाया जा सकता है। रोहित शर्मा ने कहा था लेफ्ट राइट कॉम्बिनेशन बैठाने के चक्कर में दिनेश को नहीं खिलाया जा रहा है। रोहित के इस बयान के बाद लोगों ने कहा था हमें कॉम्बिनेशन से मतलब नहीं जीतने से मतलब है।

अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ एशिया कप में भारत के आखिरी मुकाबले में दिनेश को खेलने का मौका मिला था जिसमें एक बार फिर से दिनेश की बैटिंग नहीं आ पायी। दिनेश ने एशिया कप में तीन मैच खेले जिनमें वह अपनी कुशलता नहीं दिखा पाए।

विश्वकप में अहम् किरदार निभा सकते हैं कार्तिक

Dinesh Karthik

एशिया कप में दिनेश कार्तिक की कमी तब खली थी जब भारतीय टीम ने सुपर चार के मैचों में पकिस्तान और श्रीलंका से पटखनी खाई थी। दोनों ही मैचों में हमें एक फॉर्म में चल रहे अच्छे फिनिशर की जरूरत थी। यदि भारतीय टीम उन्हें निरंतर हर मैच में खिला रही होती तो शायद तस्वीर कुछ और हो सकती थी। लोगों ने इस बात का सीधा दोष रोहित पर मढ़ा है। उनका मन्ना है की पंत उनके करीबी हैं और दिनेश नहीं इसीलिए अनुभवी खिलाड़ी भेदभाव का शिकार हो रहा है।

यदि विश्वकप में एक बेहतरीन फ़िनिशिंग टच देना है तो दिनेश को निरंतर मौका देना होगा। दिनेश ने इस साल आईपीएल में बेहद ही शानदार प्रदर्शन किया था इसी वजह से उन्हें भारतीय टीम में जगह मिली थी।

दिनेश और रिषभ दोनों ही विश्वकप की टीम के लिए चुने गए हैं, अब देखना यह होगा की इन दोनों का इसबार किस तरह से प्रयोग किया जाता है।