rohit sharmaa

‘रोहित शर्मा आज भी हैं भारत के सबसे महान कप्तान’, अजीब तर्क देकर बचाव करने उतरे फैंस

IND vs AUS: ओस्ट्रिलिया से मिली करारी हार के बाद हर तरफ रोहित शर्मा के ही चर्चे हो रहे थे। लोगों का ऐसा मानना है की रोहित शर्मा को यह बात पता थी की भुवनेश्वर कुमार डेथ ओवर में गेंदबाज़ी नहीं कर पा रहे हैं इसके बावजूद भी उनसे गेंदबाज़ी करवाई गयी है। साथ ही साथ रोहित शर्मा ने कुछ ख़ास रन भी नहीं बनाये हैं। भुवनेश्वर कुमार लगातार डेथ ओवरों में मात खाते नज़र आये हैं।

बातों का सिलसिला तब शुरू हुआ जब भारतीय टीम तीन मैचों की T20I सीरीज का पहला मुकाबला ओस्ट्रिलिया से बुरी तरह हार गयी थी। भारतीय टीम ने भले ही ऑस्ट्रिलियन टीम को 209 रन का टारगेट दे दिया था मगर विरोधी टीम ने इस पहाड़ जैसे टारगेट को ऐसे प्राप्त किया जैसे यह कोई बच्चों का खेल हो। खेल के दौरान ऐसा कभी भी लगा ही नहीं की ऑस्ट्रेलियाई टीम खेल से बाहर हुई है, खासकर दूसरी इनिंग में।

बल्लेबाज़ों ने तो अपना काम कर दिया था मगर गेंदबाज़ काम नहीं आये। अक्षर पटेल को छोड़ दिया जाए तो सभी की इकॉनमी 10 के ऊपर रही है।

बचाव करने मैदान में उतरे फैंस

रितिका सोशल मीडिया में लिखती हैं की कैच छोड़ा जाता है, मंहगे ओवर फेंके जाते हैं और इलज़ाम कप्तान पर लगा दिया जाता है। विशाल नाम के यूज़र लिखते हैं की रोहित शर्मा विरोधी टीम के लिए एक बुरा सपना हैं जो उनकी रातों की नीड उड़ा सकते हैं। विशाल लिखते हैं की रोहित शर्मा ने कप्तान के तौर पर 40 इनिंग खेली हैं, जिसमें उन्होंने 1305 रन बनाये हैं और 153.16 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी की है। उन्होंने 9 बार अर्धशतक लगाए हैं और दो बार शतक लगाए हैं। किसी भी दूसरे बल्लेबाज़ के पास इससे अच्छे रिकार्ड्स और स्टैट्स नहीं है। रोहित T20I के मसीहा हैं।

अरकू लिखते हैं की रोहित ने स्कोर डिफेंड करते हुए 16 मैच जीते हैं और 6 मैच हारे हैं। कोहली ने स्कोर डिफेंड करते हुए 14 मैच जीते हैं और 13 हारे हैं, धोनी ने डिफेंड करते हुए 19 मैच जीते हैं और 14 मैच हारे हैं। कुछ जोकर कह रहे हैं की रोहित शर्मा अच्छे कप्तान नहीं हैं।