india

पहाड़ जैसे रन डिफेंड नहीं कर पाते विश्वकप क्या ख़ाक जीतेंगे, भारतीय टीम की हार पर भड़के फैंस, तरह-तरह की हुई बातें

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की T20I सीरीज खेली जा रही है। इस सीरीज का पहला मैच मंगलवार को खेला गया था। मज़े की बात यह है की इस सीरीज में भारतीय टीम अपने ही घर में बड़ी ही बेरहमी से हारी है। आईपीएल के शेर एक बार फिर से घर में ढेर हो गए हैं। भारत की इस हार से प्रशंषक काफी ज्यादा नाराज़ नज़र आ रहे हैं।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए इस मैच में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 209 रन का टारगेट दिया था। भारतीय टीम टारगेट को बचाने में नाकाम रही है। क्या टारगेट डिफेंड करने के लिए अब भारतीय टीम को 300 रनों की जरूरत पड़ेगी? प्रशंषक ऐसे कई प्रश्न सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया ने शुरू से ही गेम में पकड़ बनाकर रखी थी और इस टारगेट को 19.2 ओवर में ही पूरा कर लिया था।

भातीय टीम की हो रही है आलोचना

भारतीय टीम की खूब आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया में हर कोई कह रहा है की जब ये लोग पहाड़ जैसे रन नहीं डिफेंड कर सकते हैं तो विश्वकप क्या खाक जीतेंगे। इसी तरह कई बातें हो रही हैं। कई लोगों तो यह भी कहा है की रोहित शर्मा में ही खोट है। डेथ ओवर में भुवनेश्वर कुमार से बार बार गेंदबाज़ी क्यों करवाई जाती है जब वह पूरी तरह से असफल रहते हैं।

मीनू ट्विटर पर लिखती हैं की, जितना चिढ़ाना है चिढ़ा लो, लेकिन अर्शदीप सिंह डेथ ओवर में सबसे महत्वपूर्ण और भरोसेमंद खिलाड़ी हैं। टाइगर नाम का यूज़र लिखता है की ‘देख रहे हो बिनोद कैसे वही डिसअपोइंटमेंट वाला एक्सप्रेशन दिया जा रहा है। मुन्तज़िर लिखते हैं की ऑस्ट्रेलिया वाले पैसे नहीं विकेट लेते हैं। एक यूज़र ने लिखा ओस्ट्रिलिया वाले पैसे नहीं विकेट लेते हैं। इसी तरह की और भी मज़ेदार बाते कही गयी हैं।

विक्रांत गुप्ता लिखते हैं की, ऑस्ट्रेलिया ने न सिर्फ हालिया भारतीय गेंदबाज़ी का असल रूप दिखा दिया है बल्कि उन्होंने T20 टीम की बल्लेबाज़ी को भी आइना दिखाया है। हाँ भारत ने 208 रन बनाये पर अंत में वह भी कम पड़े।

प्राउड इंडियन नाम के यूज़र ने भुवनेश्वर कुमार की खूब खिल्ली उड़ाई है।

टीम इंडिया को मिली है करारी हार

टीम इंडिया को इस मैच में करारी हार का सामना करना पड़ा है। टीम ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 209 रन का टारगेट सेट किया था लेकिन उसे डिफेंड करने में नाकाम रही है। लोग सोशल मीडिया में इस बात को लेकर भी अपना गुस्सा ज़ाहिर कर रहे हैं।

कुछ खिलाड़ियों ने कमाल का प्रदर्शन किया है। हार्दिक पंड्या, केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव ने शानदार पारियां खेली हैं वहीँ गेंदबाज़ों ने निराश किया है। अक्षर पटेल को छोड़कर सभी गेंदबाज़ों ने खराब प्रदर्शन किया है। उनका इकॉनमी रेट भी दस के ऊपर रहा है। मैच में कैमेरॉन ग्रीन के दो कैच भी छोड़े गए हैं।

अगला मैच 23 अगस्त को खेला जाना है ऐसे में भारतीय टीम को जीतने के लिए एक नयी रणनीति के साथ मैदान में उतरना होगा। गेंदबाज़ी पर ख़ास ध्यान देने की जरूरत है।