PAKvsAFG

विवादों में घिरा पकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के बीच का मैच, सोशल मीडिया में लोगों ने की तरह-तरह की बातें

पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान का मैच यादगार रहा है। यह मैच काफी ज्यादा रोमांचक रहा है। आपने भी नोटिस किया होगा कि एशिया कप के मैच काफी ज्यादा रोमांचक हो रहे हैं, जैसे आईपीएल के मैच होते हैं। रोमांच भरे मैच को आखिरकार पकिस्तान ने अपनी मेहनत और सूझ-बूझ से जीत लिया है। मैच के हीरो नशीम शाह (Naseem Shah) रहे हैं। उन्होंने आखिरी ओवर में जो दो छक्के मारे उसे पूरा पकिस्तान कई सालों तक याद रखेगा। और इसी के साथ हिन्दुस्तान का इस साल एशिया कप (Asia Cup) फाइनल खेलने का सपना भी चूर-चूर होगया है।

पाकिस्तान के कप्तान बाबर आज़म भले ही कारगर न दिख रहे हों। लेकिन उनके चेले अपना पूरा काम कर रहे हैं। T20I फॉर्मेट इतना खूबसूरत होता जा रहा है कि लोगों को अब वनडे और टेस्ट क्रिकेट बोरिंग लगने लगा है। T20 क्रिकेट की खूबसूरती तब और बढ़ गयी जब पकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान की टीमों ने एक रोमांचक मैच को जन्म दिया।

विवादों में घिरा पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान का मैच

पकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के मैच के बीच विवाद तब खड़ा हुआ जब आसिफ अली (Asif Ali) ने फरीद अहमद (Fareed Ahmad) को धक्का मार दिया। क्रिकेट के नियम अनुसार फिजिकली किसी खिलाड़ी पर हमला नहीं किया जा सकता है। विशेषज्ञों का मानना है कि आसिफ अली को अगले मैच के लिए बैन कर दिया जाएगा। पाकिस्तानी प्रशंषकों का कहना है की फरीद ने पहले गाली बकना शुरू किया था। सच्चाई अभी भी कोई नहीं जानता है।

मैच ख़त्म होते ही अफ़ग़ानिस्तान के प्रशंषकों से पाकिस्तानी प्रशंषकों पर कुर्सियां फेंकनी चालू कर दीं। कुर्सियां पहले तोड़ी गयीं इसके बाद फेंकी गयीं। हालांकि ऐसा करने वालों की पहचान कर उन्हें बंद कर दिया गया है।

सोशल मीडिया पर लोगों ने दी प्रतिक्रिया

सोशल मीडिया में लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देना शुरू कर दिया। कुछ अफ़ग़ानियों और हिन्दुस्तानियों ने आसिफ अली को आतंकी घोषित कर दिया है। उनका मानना है कि ऐसी हरकतें सिर्फ आतंकी सोच वाले लोग ही करते हैं। वहीँ कुछ लोग यह भी कह रहे हैं की ICC को आसिफ अली को हमेशा के लिए बैन कर देना चाहिए।

कई लोग उन अफगानी दर्शकों का विरोध कर रहे हैं जिन्होंने कुर्सियां तोड़ी और स्टेडियम की प्रॉपर्टी को नुक्सान पहुँचाया है। एक व्यक्ति ने ट्विटर पर लिखा है की, ‘इन अफगानी बच्चों को सीखना चाहिए कि उन्हें किस तरह का बर्ताव करना चाहिए। यह एक अंतराष्ट्रीय मैच है कोई गली क्रिकेट नहीं है। यह किसी अन्य मैच में नहीं देखने को मिलता है इसीलिए मैं बाकी टीमों की इज़्ज़त करता हूँ।’ कुछ लोगों का यह भी मानना है कि फरीद ने आसिफ को गाली दी इसी वजह से नसीम को गुस्सा आया और उन्होंने दो छक्के लगाए।

वहीँ पकिस्तान के जीतने पर हिंदुस्तान एशिया कप के फाइनल से बाहर होगया है इस वजह से पकिस्तान के प्रशंशक हिन्दुस्तानी खिलाड़ियों का मज़ाक उड़ाते दिखे हैं, एक ने लिखा है कि ‘पापा जीत गए’.