six wicket haul players

इंटरनेशनल T20 मैच में 6 विकेट लेने वाले 5 खिलाड़ी, लिस्ट में दो भारतीय भी शामिल हैं।

जहां कुछ खिलाड़ियों को वनडे मैच में 6 विकेट निकालने में लाले पड़ जाते हैं वहीँ कुछ ऐसे भी खिलाड़ी हैं जो लिमिटेड ओवर के T20I फॉर्मेट में भी 6 विकेट निकाल कर इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज़ कर लेते हैं। आज हम ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों पर चर्चा करेंगे जिन्होंने यह कारनामा करके इतिहास रच दिया है। बीस ओवर के खेल में हर एक गेंदबाज़ को मात्र चार ओवर ही फेंकने को मिलते हैं ऐसे में अगर वह 6 विकेट निकाल कर दे दे तो कितनी शानदार बात है। 6 विकेट निकालना कोई दाएं हाँथ का खेल नहीं है। इसके लिए भरपूर मेहनत और थोड़ी सी किस्मत का साथ भी चाहिए होता है।

छह विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची

चलिए कुछ ऐसे ही खिलाड़ियों पर चर्चा कर लेते हैं जिन्होंने शानदार पारियां खेलते हुए छह विकेट निकाले हैं।

ओबेद मकोय:

ओबेद मकोय (Obed McCoy) ने हाल ही में यह कारनामा कर दिखाया है। इन्होने वेस्टइंडीज़ और भारत (IND vs WI) मैच में शानदार गेंदबाज़ी करते हुए भारत के कुल छह खिलाड़ियों को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया है। मकोय ने ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़ रोहित शर्मा और सूर्यकुमार यादव को चलता किया। इसके बाद इन्होने फिनिशर रविंद्र जडेजा और दिनेश कार्तिक को भी फिनिश करने से रोक लिया। अंत में इन्होने दो गेंदबाज़ आश्विन और भुवनेश्वर को बाहर का रास्ता दिखाया।

इनकी मदद से वेस्टइंडीज़ की टीम ने भारत को 138 के शर्मनाक स्कोर पर रोक दिया। मकोय ने इस गेम में एक मेडेन ओवर भी फेका और इस दौरान इन्होने मात्र 4.25 की इकॉनमी के साथ मात्र 17 रन ही लुटाए। मकोय एक ही मैच में 6 विकेट लेने वाले छठे खिलाड़ी बन गए हैं।

एश्टन एगर:

एश्टन ने भी यह कारनामा हाल ही में किया था। इन्होने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ 30 रन देकर 6 विकेट निकाले थे। एस्टन की टीम ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच को 64 रनों से जीत लिया था। उनका यह कारनामा औरस्ट्रालिया के लिए अब तक का T20I में सबसे बेस्ट बोलिंग परफॉरमेंस है। आपको बता दें की इसी गेंदबाज़ ने 2020 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ गेंदबाज़ी करते हुए 24 रन देते हुए 5 विकेट चटकाए थे।

दीपक चाहर:

भारतीय गेंदबाज़ दीपक चाहर (Deepak Chahar) के खाते में भी यह अद्भुद रिकॉर्ड दर्ज़ है। 2019 में दीपक ने बांग्लादेश के खिलाफ नवंबर 2019 में यह कारनामा किया था। पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत ने 5 विकेट खोकर 174 रन बनाए थे, इसके बाद दीपक ने 7 रन देते हुए 6 विकेट झटके थे जिसके कारण बांग्लादेशी टीम 144 रन पर ही हेर होगयी थी। भारत ने इस मैच को 30 विकेट से और सीरीज़ को 2-1 से जीत लिया था। यह T20I का बेस्ट बोलिंग फिगर है।

अजंथा मेंडिस:

अजंथा मेंडिस ने भी कुछ ऐसा ही किया था। श्रीलंका के इस खिलाड़ी ने 8 रन देकर ज़िम्बाम्ब्वे के 6 विकेट झटके थे। इन्होने यह कारनामा विश्वकप 2012 में कर के दिखाया था। विश्वकप के सारे मैचेस बड़े ही तनावपूर्ण होते हैं ऐसे समय में ऐसी शानदार गेंदबाज़ी करना अपने आप में काबिल-ए-तारीफ है। श्रीलंका ने पहले बैटिंग करते हुए 182 रन बनाए थे। बाद में ज़िम्बाम्ब्वे ने इस मैच को गँवा दिया था। 6 विकेट लेने का कारनामा उन्होंने दूसरी बार किया था।

पहली बार अजंथा ने यह कारनामा 2011 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया था। अजंथा ने मात्र 16 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे।

युजवेंद्र चहल:

भारतीय लेग स्पिनर चहल ने इंग्लैंड के खिलाफ गेंदबाज़ी करते हुए 25 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे। इन्होने यह कमाल की गेंदबाज़ी 2017 में की थी, मैदानं बंगलौर का था। महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना के अर्धशतक के बूते भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 202 रन मारे थे। इसी मैच में युवराज सिंह ने भी 10 गेंदों में 27 रन बनाए थे।