VIRAT KOHLI BABAR AZAM

एशिया कप में पकिस्तान के ये खिलाड़ी पड़ सकते हैं हम पर भारी।

भारत और पकिस्तान (IND vs PAK) के मैच का तो सभी को इंतज़ार रहता है। इस बार का इंतज़ार बहुत जल्द खत्म होने वाला है। अंतराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् यानी International Cricket Council (ICC) ने हाल ही में अपना एशिया कप का कार्यक्रम जारी कर दिया है। भारत और पकिस्तान का मैच 28 अगस्त के लिए तय हुआ है। तैयार हो जाइये, महायुद्ध इसी महीने में है। भारत और पाकिस्तान के मैच में माहौल एक दम त्योहारों वाला हो जाता है। सब अपने काम जल्दी जल्दी समेटकर TV के पास बैठ जाते हैं। हर खर और दुकान में बस इंडिया और पकिस्तान का ही मैच देखा जाता है।

चलिए अब बात कर लेते हैं की कौन से ऐसे खिलाड़ी हैं जो एक दूसरे पर भारी पड़ सकते हैं। वैसे तो क्रिकेट वो भी T20 तो एक अनिश्चितताओं का खेल है इसमें कौन चलेगा, कौन बढ़िया खेलेगा और कौन जीतेगा अंदाज़ लगाना थोड़ा सा कठिन है लेकिन हम फिर भी प्रयास करेंगे की आपको बता सकें की कौन अच्छा प्रदर्शन कर सकता है।

ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़

ऊपरी क्रम तो दोनों ही देशों का मज़बूत है, हाल ही में सूर्यकुमार यादव से ओपन करवाया गया है, वह सफल भी रहे हैं। एशिया कप में भी सूर्यकुमार को रोहित शर्मा के साथ पारी का आगाज़ करवाया जा सकता है।

सूर्यकुमार और रिज़वान:

सूर्यकुमार यादव (Surya Kumar Yadav) जहां भारत के लिए ओपन कर सकते हैं वहीँ पकिस्तान के लिए रिज़वान (Rizvan) का पारी का आगाज़ करना पक्का है। अब बात करें अगर हालिया फॉर्म की तो सूर्यकुमार तो भैया रिज़वान से आगे हैं। हाल ही में सूर्यकुमार ने रिज़वान को ICC की T20 रैंकिंग में धकेल दिया है और वह दूसरे नंबर पर आ विराजे हैं। बाबर आज़म से सूर्य सिर्फ कुछ कदम ही पीछे हैं और जल्द ही वह उन्हें भी पछाड़ देंगे। तो हमारे नज़रिये से सूर्यकुमार यादव पकिस्तान के ओपनर रिज़वान से आगे हैं।

कोहली और बाबर:

कोहली (Virat Kohli) की बात करें तो वह पूरी तरह से आउट ऑफ़ फॉर्म यानी फॉर्म से बाहर चल रहे हैं, बाबर (Babar Azam) जहां निरंतर खेल से जुड़े हुए हैं वहीँ कोहली निरंतर आराम काट रहे हैं। ऊपरी क्रम में जहां बाबर पाकिस्तान से ओपन करते हैं वहीँ कोहली हिन्दुस्तान से तीसरे नंबर पर आते हैं। फिलहाल आज के टाइम पर बाबर तो कोहली से आगे हैं। इसलिए वह कोहली पर भारी पड़ेंगे।

बॉलिंग ऑलराउंडर

उस्मान कादिर और जडेजा

निचले क्रम में मजबूती देने वाले ये दो खिलाड़ी अपनी-अपनी टीम में बहुत ही अहम् जगह रखते हैं। जडेजा (Ravindra Jadeja) भी बैटिंग कर सकते हैं और कादिर भी। हाल ही में कादिर ने 5 अप्रैल को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मात्र 6 गेंदों में 300 की स्ट्राइक रेट से 18 रन बनाये थे। वहीँ जडेजा इस समय कुछ कमाल नहीं दिखा पा रहे हैं जैसे की वह कुछ समय पहले भारत के लिए करते थे।

जडेजा का गेम भी धीरे-धीरे स्लो होता चला जा रहा है। यहां पर कादिर का पड़रा जडेजा से भारी है।

गेंदबाज़ी

शाहीन अफरीदी और बुमराह

पिछले T20 विश्वकप का तो आपको याद ही होगा कैसे शाहीन अफरीदी ने टीम इण्डिया को ध्वस्त कर दिया था। लेकिन बुमराह (Jasprit Bumrah) को कम ना आंकें यह वर्ल्ड के बेस्ट गेंदबाज़ों में से एक और डेथ ओवर स्पेशलिस्ट हैं। इनके आस शाहीन से ज्यादा अनुभव और कला है। इस मामले में बुमराह पाकिस्तानी गेंदबाज़ से कई कदम आए हैं। उनका पड़रा भारी है।

फिनिशिंग टच

दिनेश कार्तिक और मोहम्मद नवाज़

बात करें फिनिशिंग टच की तो भारत से यह काम दिनेश कार्तिक और पकिस्तान से यह काम मोहम्मद नवाज़ कर सकते हैं। कार्तिक हाल ही में भारत के लिए कई अच्छे मैच फिनिश करते आ रहे हैं। वहीँ नवाज़ ने दिसंबर में वेस्टइंडीज़ के खिलाफ 10 गेंदों में 30 रन मारे थे। कार्तिक के पास अनुभव के साथ-साथ रन बनाने की जो काबिलियत है वो पाकिस्तानी फिनिशर्स के पास नहीं है। इसलिए यहां पर DK आगे आगे हैं।