5 शर्मनाक रिकार्ड्स

महेंद्र सिंह धोनी के 5 ऐसे शर्मनाक रिकार्ड्स जिन्हें उनके चाहने वाले जरूर भूलना चाहेंगे

महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) एक ऐसा नाम है जिसने भारतीय क्रिकेट को बहुत कुछ दिया है, महेंद्र सिंह धोनी ने अपने नेतृत्व में भारत को 2007 का T20 विश्वकप और 2011 का विश्वकप जितवाया था. धोनी से युवा भी प्रेरणा लेते हैं.

कैप्टेन कूल के नाम से मशहूर धोनी के पास वैसे तो कई सारे रिकार्ड्स हैं, लेकिन आज हम उनके अच्छे रिकार्ड्स पर चर्चा न करके उन रिकार्ड्स पर चर्चा करने जा रहे हैं जिन्हें हर कोई भूलना चाहेगा.
चलिए फिर देखते हैं.

दूसरा और पहला सबसे धीमा अर्धशतक

धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके नाम ODI सीरीज में दूसरा और पहला सबसे धीमा अर्धशतक मारने का रिकॉर्ड है. धोनी ने 93 गेंदों में 50 रन पूरे किये थे, वाकई में यह बहुत धीमा है. यह मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ 2017 में खेला जा रहा था. इस मैच में धोनी ने 114 गेंदों में 54 रन बनाये थे. दूसरे नंबर पर भी सबसे धीमा पचासा बनाने का रिकॉर्ड धोनी के पास ही है.

धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच में 108 गेंदों पर पचास रन बनाये थे. लेकिन धोनी ने इसलिए ऐसा किया था क्योंकि भारत अपने कीमती विकेट पहले ही खो चुका था. इस मैच में भारत को 11 रनों से हार का सामना करना पड़ा था.

लगातार 4 टेस्ट सीरीज हारने वाले कप्तान

धोनी के नाम लगातार 4 टेस्ट मैच हारने का रिकॉर्ड भी है. ऐसा करने वाले केवल वे एकमात्र कप्तान रहे हैं. साल 2013 में भारत न्यूज़ीलैंड से हारा, फिर साउथ अफ्रीका से हारा इसके बाद साल 2014 में भारत इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया से भी हार गया.

सबसे ज्यादा टेस्ट मैच हारने वाले कप्तान

महेंद्र सिंह धोनी ने 60 टेस्ट मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है जिनमें से 27 में जीत मिली है और 18 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है, वह भारत के दूसरे ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने इतनी ज्यादा हार का सामना किया है. पहले नंबर में मंसूर अली खान हैं. विराट कोहली का नाम तीसरे पायदान पर है.

एशिया से बाहर शतक मारने में रहे नाकाम

भारत में बैटिंग करते हुए तो उनके पास कई सारे कीर्तिमान हैं मगर एशिया के बहार बल्लेबाज़ी करते हुए धोनी ने एक भी शतक नहीं लगाया है.

धोनी के नाम कुल 16 शतक हैं जिनमें से 10 शतक ODI के हैं और 6 शतक टेस्ट मैचों के हैं. धोनी ने यह सारे ही शतक बांग्लादेश, पकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ ही लगाए हैं. धोनी एशिया से बहार शतक मारने में नाकाम रहे हैं.

बांग्लादेश में सीरीज हारने वाले पहले भारतीय कप्तान

साल 2015 में भारत ने बांग्लादेश का दौरा किया था. इस दौरान भारत ने एक टेस्ट मैच और 3 ODI मैच खेले थे. टेस्ट मैच ड्रा होगया था मगर टीम इंडिया ODI सीरीज 1-2 से हार गयी थी.

भारत को सीरीज के दूसरे मैच में 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.