IMG 20220612 170039

रिकॉर्ड टूटने के लिए बनते है लेकिन धोनी जो 5 रिकॉर्ड बना दिए वो कोई नहीं तोड़ सकता

वैसे तो रिकॉर्ड टूटने के लिए ही बनते है लेकिन भारतीय टीम के पूर्व कप्तान धोनी ने कुछ ऐसे रिकॉर्ड बना डाले है जिनको कोई भी तोड़ नही पाएगा। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से 15 अगस्त को संन्यास ले लिया था। एमएस धोनी का क्रिकेट में सफर बहत ही चुनौतियों भरा रहा ओर उन्होंने कई ऐसे कारनामे कर डाले जो शायद ही कोई अब तोड़ पाएगा। इनको ऐसे ही थोड़ी ना “कैप्टन कूल” कहा जाता है ये क्रिकेट इतिहास के लीजेंड खिलाड़ी है।आइए एक नजर डालते है एमएस धोनी के 5 ऐसे रिकॉर्डों पे जिनको साएद ही कोई तोड़ पाए:

#5 बतौर कप्तान सबसे जादा अंतरराष्ट्रीय मैच

एमएस धोनी बतौर कप्तान अबतक 200 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच, 60 टेस्ट मैच और 72 टी20आई मैच खेल चुके है। वह अबतक भारतीय टीम के लिए बतौर कप्तान 332 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके है जो की पूरे विश्व में किसी भी खिलाड़ी द्वारा सबसे अधिक है। दूसरे नंबर पे रिकी पोंटिंग है जिन्होंने 324 अंतरराष्ट्रीय मैच बतौर कप्तान खेले है।

#4 सबसे तेजी के साथ आईसीसी वन डे इंटरनेशनल रैंकिंग में पहला नंबर हासिल करना

42 मैच खतम होते होते एमएस धोनी वन डे इंटरनेशनल बल्लेबाज रैंकिंग में पहले स्थान पर पहुंच गए थे। वह यह कारनामा करके पहले ऐसे खिलाड़ी बन गए जिसने इतने कम मैच खेल के पहला स्थान हासिल कर लिया। उस समय पे रिकी पोंटिंग पहले स्थान पर काबिज थे लेकिन धोनी ने उनको पीछे करके अपना नाम टॉप पे दर्ज किया था।

#3 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे जादा स्टंपिंग

धोनी एक ऐसे खिलाड़ी है जो की बल्लेबाजी में निपुण तो है ही बल्कि विकेट कीपिंग में भी बहुत ही ज्यादा तेज है उनकी इसी विकेट कीपिंग के चलते बहुत से लोग उनकी प्रशंसा करते है। 538 अंतरराष्ट्रीय मैचों में एमएस धोनी ने शानदार 195 स्टंपिंग की हैं। श्री लंका के कुमार संगकारा इस लिस्ट में दूसरे नंबर पे है उनके नाम 139 स्टंपिंग हैं। आगे चलके भले ही कोई भी कितना भी होनहार विकेट कीपर अजाए लेकिन लेकिन सभी तीन फॉर्मेट में ये कारनामा करके दिखा पाना लगभग असम्भव है।

#2 बिजली की रफ्तार से भी तेज स्टंपिंग

एमएस धोनी ने 0.08 सेकंड में वेस्ट इंडीज के बल्लेबाज कीमो पॉल को 2018 में स्टंप आउट किया था। विकेट कीपिंग में तो इनका नाम सुनहरे अक्षरों से लिखा जायेगा उन्होंने खुद का ही रिकॉर्ड तोड़कर एक नया रिकॉर्ड बना डाला(पिछला रिकॉर्ड 0.09 सेकंड)। एक आम मनुष्य की आंख को भी झपकने लगभग 0.25 सेकंड लगते है लेकिन मैं धोनी की स्टंपिंग उससे भी कई जड़ा तेज है। कप्तान कूल खाली बर्फ की तरह कूल ही नही बल्कि बिजली की तरह तेज भी है।

#1 बतौर कप्तान तीनो आईसीसी ट्रॉफी जितना

एमएस धोनी ने अपनी कप्तानी के दौर में तीनो आईसीसी ट्रॉफी जीती है जो की क्रिकेट के इतिहास में कोई भी कप्तान कभी भी नही कर पाया है। इन तीनों ट्रोफियो में सामिल है वर्ल्ड टी20 2007, वन डे वर्ल्ड कप 2011 ओर चैंपियंस ट्रॉफी 2013

Leave a Reply

Your email address will not be published.