MI CSK

ये 4 टीम किसी भी हालत में नहीं पहुंच सकती हैं प्लेऑफ

IPL 2022 सभी के लिए रोमांचक भरा रहा है। इस बार के TATA IPL ने हमारे सामने दो नयी टीमों का परिचय कराया। ये थीं गुजरात टाइटंस और लखनऊ सुपर जाइंट्स। दोनों ही टीमों ने अपने पहले ही साल दमदार प्रदर्शन करके सबको चकित कर दिया है। यह बात तो पक्की है इन दोनों टीम का प्लेऑफ में जाना तय है, हो सकता है की यह दोनों ही टीमें फाइनल भी खेल जाएँ। हर साल कुछ टीमें बढियाँ प्रदर्शन करती हैं तो कुछ टीमें बेहद ही ख़राब प्रदर्शन। कुछ टीम अपने फैंस को बार-बार उनके मैच को देखने की वजह देती हैं तो कुछ टीम अपने फैंस का दिल तोड़ देती हैं। तो कोई एक ऐसी भी टीम निकल कर सामने आती है जो ट्रॉफी उठाकर इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज़ कर देती है। आज इस लेख में हम ऐसी टीमों के बारे में बात करेंगे जिनका इस आईपीएल में ट्रॉफी का सपना टूट चुका है या फिर लगभग टूटने ही वाला है।

मुंबई इंडियंस हो चुकी है बाहर

मुंबई इंडियंस प्लेऑफ की रेस से बाहर होने वाली पहली टीम बन चुकी है। 5 बार की चैंपियंस मुंबई इंडियंस ने इस आईपीएल कुछ ख़ास प्रदर्शन नहीं किया है। विशेषज्ञों की राय माने तो रोहित शर्मा और ईशान किशन का फॉर्म में न होना मुंबई की लगातार हार का एक कारण हो सकता है। इन दोनों के न चल पाने की वजह से ही मुंबई को जो शुरुवात मिलनी चाहिए थी वह नहीं मिली और आईपीएल के पहले भाग में टीम लगातार एक के बाद एक मैच हारती चली गयी। हालांकि सूर्यकुमार यादव ने लगातार शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन दिक्कत यह है की टीम किसी एक आदमी के दम पर चैंपियन नहीं बन सकती जब तक उसे सभी का सपोर्ट न मिले। मुंबई इंडियंस बाकी के मैच अपनी लाज बचाने के लिए खेल रही है।

चेन्नई सुपरकिंग्स का भी खेल रहा खराब

4 बार की चैंपियंस चेन्नई सुपरकिंग्स से फैंस को काफी उम्मीद थी क्योंकि यह टीम पिछला आईपीएल जीतकर आई थी। इस सीजन जडेजा को कप्तान बनाया गया, और लोगों का मानना है की उनकी खराब कप्तानी की वजह से ही टीम मुसीबतों में फस्ती चली गयी। हर आईपीएल में विष्फोटक बल्लेबाज़ी पर विशवास रखने वाले सर जडेजा का इस सीजन बल्ला खामोश रहा। हालांकि टीम में धोनी ने एक आध मैच में शानदार बल्लेबाज़ी कर के कुछ मैचेस अच्छे फिनिश किये हैं। रोबिन उथप्पा ने भी कई मैचेस में कड़े प्रहार करके टीम को एक सम्मान जनक स्कोर पर पहुंचाया है। इस बार चेन्नई की सबसे बड़ी कमज़ोरी उनकी गेंदबाज़ी रही। यही कारण था की यह टीम दो सौ रन भी डिफेंड करने में नाकाम रही है। कई बार जडेजा की कप्तानी में धोनी भी हस्तछेप करते नज़र आये हैं कई लोगों को यह बात भी पसंद नहीं आई।

KKR ने कहा टाटा बाय-बाय

KKR ने तो इस साल हद ही कर दी है। दो बार की चैंपियन टीम का खेल इस सीजन काफी निराशाजन रहा है। KKR के नए-नवेले कप्तान बने श्रेयश अय्यर भी कुछ ख़ास करिश्मा दिखाने में असफल रहे। KKR के खराब प्रदर्शन के तीन महत्वपूर्ण कारण रहे हैं। पहला कारण यह था की टीम को ओपनिंग पार्टनरशिप नहीं मिली, जिसके कारण पॉवरप्ले में टीम का हमेशा से ही खराब प्रदर्शन रहा है। दूसरा कारण यह था की पिछली बार के हीरो रहे वेंकटेश अय्यर इस साल पूरी तरह फेल होगये। और तीसरा कारण यह था की मिस्ट्री गेंदबाज़ वरुण चक्रवर्ती की मिस्ट्री इस साल बिलकुल भी नहीं चली। फैंस ने लगातार मिल रही हार का सबसे बड़ा कारण KKR मैनेजमेंट को भी बताया है जिन्होंने कुछ ऐसे फैसले लिए हैं जो टीम के हित में साबित ही नहीं हुए।

पंजाब भी हो सकती है रफा-दफा

पंजाब को प्लेऑफ की रेस में बरकरार रहने के लिए अब बाकी बचे सारे मैच जीतने होंगे। पंजाब का खेल भी इस साल बड़ा ही उतार-चढ़ाव भरा रहा है , ऐसे में कहा जा सकता है की पंजाब किंग्स भी इस बार के प्लेऑफ से बाहर ही है। पंजाब को भी कप्तान मयंक अग्गरवाल से अच्छी बल्लेबाज़ी नहीं मिली है जिसकी वजह से इनकी ओपनिंग खराब रही है। पंजाब के हालिया फॉर्म को देखते हुए हमे नहीं लगता की यह टीम आगे के तीन में से तीन मैचेस जीतेगी।

आपके हिसाब से किस टीम का सबसे खराब प्रदर्शन रहा है हमें कमेंट कर के अवश्य बताएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.