micsk

तीन बार क्वालीफ़ायर 1 में खेली है ये टीम फिर भी नहीं जीत पाई एक भी ट्रॉफी, वाह री बदनसीबी

आपको बता दें की आईपीएल (Indian Premier League) में क्वालीफ़ायर सिस्टम सबसे पहले 2011 में लाया गया था. इस फॉर्मेट में टॉप 2 टीमें आपस में भिड़कर फाइनल में जगह बनाने की जद्दोजहत करती हैं. जो टीम जीत जाती है उसे सीधे-सीधे टिकट टू फिनाले मैच मिलता है यानी की वह टीम डायरेक्ट फाइनल में प्रवेश करती है. है ना टॉप 2 में रहने का बड़ा फायदा?

जो टीम क्वालीफ़ायर 1 में हार जाती है उसे क्वालीफ़ायर 2 में एलिमिनेटर मैच में जीत के आ रही टीम से खेलना पड़ता है. हम कह सकते हैं की टॉप 2 टीम को दो मौके मिलते हैं, फिर जो भी टीम क्वालीफ़ायर 2 जीतती है उसे फाइनल में खेलने को मिलता है.

चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) ने 2011 से लेकर अब तक सबसे ज्यादा बार क्वालीफ़ायर 1 खेला है. CSK ने कुल 6 बार क्वालीफ़ायर 1 खेला है.

आपको बता दें की मुंबई के वानखेड़े में सबसे ज्यादा बार क्वालीफ़ायर 1 खेला गया है, मुंबई ने सबसे ज्यादा बार क्वालीफ़ायर होस्ट किया है जिसकी संख्या 4 है.

चलिए क्वालीफ़ायर 1 मैचों के बैटिंग परफॉरमेंस पर भी एक नज़र डाल लेते हैं.

चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के खिलाफ 2013 में क्वालीफ़ायर 1 का सबसे बड़ा स्कोर 192 रन रखा था, यह स्कोर सिर्फ एक विकेट के नुक्सान पर आया था.

पंजाब किंग्स (Punjab Kings) ने कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के खिलाफ 2014 में क्वालीफ़ायर 1 का सबसे कम स्कोर खड़ा किया था जोकि सिर्फ 135 रन का था, इतने कम रन पंजाब के कुल 10 खिलाडियों ने मिलकर बनाये थे.

क्वालीफ़ायर 1 में अब तक सुरेश रैना के द्वारा सबसे ज्यादा रन बनाये गए हैं. उन्होंने 202 रन चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए और 1 रन गुजरात लायंस के लिए बनाये थे. कुल 203 रन हुए.

क्वालीफ़ायर 1 में सबसे ज्यादा व्यक्तिगत रन माइकल हस्सी ने बनाये थे, माइकल ने 2013 में मुंबई और चेन्नई के बीच खेले जा रहे मुकाबले में 83 रन जड़ दिए थे.

चलिए अब क्वालीफ़ायर 1 में शानदार बोलिंग परफॉरमेंस पर भी एक नज़र डाल लेते है.

ड्वेन ब्रावों ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए क्वालीफ़ायर 1 में खेलते हुए अब तक के सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं, उन्होंने कुल 9 विकेट चटकाए हैं. धवन कुलकर्णी का स्पेल अब तक का क्वालीफ़ायर 1 का सबसे बेहतरीन बोलिंग फिगर है, उन्होंने चार ओवर में मात्र 14 रन देकर चार विकेट चटकाए थे.

क्वालीफ़ायर 1 की शानदार फील्डिंग परफॉरमेंस

चेन्नई सुपरकिंग्स के रविंद्र जडेजा और सुरेश रैना ने 4-4 विकेट क्वालीफ़ायर 1 में चटकाए हैं जो अब तक के सबसे अधिक हैं.

चलिए अब जान लेते हैं की किस टीम ने कितनी बार क्वालीफ़ायर 1 खेला है या आईपीएल 2022 में खेलेंगी

चेन्नई सुपर किंग्स – 9 बार
मुंबई इंडियंस – 5 बार
दिल्ली कैपिटल्स -3 बार
रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर – 2 बार
कोलकाता नाइट राइडर्स – 2 बार
सनराइज़र्स हैदराबाद – 1 बार
पंजाब किंग्स – 1 बार
गुजरात लायंस – 1 बार
राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स – 1 बार

आपको बता दें की आईपीएल 2022 (IPL 2022) में गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स क्वालीफ़ायर 1 मुकाबला खेलेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.